Showing all 2 results

0 out of 5

प्रेमचंद जी के प्रकाशन एवं सामाजिक हिंदी साहित्य श्रंखला-1 की 193 पुस्तकें: प्रेमचंद जी के प्रकाशन की मूल 31 दुर्लभ पुस्तकें एवं सामाजिक हिंदी साहित्य श्रंखला 1: इतिहास, राजनीति, समाजशास्त्र, क़ानून, धर्म-मीमांसा, स्त्री-विमर्श, दलित चिंतन, दर्शन एवं क्रान्तिकारी हिंदी साहित्य के प्रमुख लेखकों और सामाजिक क्रांतिकारियों की 162 पुस्तकों का सैट

45,000.00
Total 193 Books in Hindi Language संख्या प्रेमचंद जी के प्रकाशन की दुर्लभ पुस्तकें 1 प्रेमचंद : कलम का सिपाही Premchand  : Kalam Ka Sipahi 2 प्रेमचंद : विविध प्रसंग (दो भागों में) Vividh Prasang : Vol. 1-2 by Premchand 3 प्रेमचंद स्मृति, लेखक : प्रेमचंद Premchand Smriti by Premchand 4 गौरी, लेखिका : सुभद्रा कुमारी चौहान (प्रसिद्ध कविता झाँसी...
0 out of 5

सामाजिक हिंदी साहित्य श्रंखला 1: इतिहास, राजनीति, समाजशास्त्र, क़ानून, धर्म-मीमांसा, स्त्री-विमर्श, दलित चिंतन, दर्शन एवं क्रान्तिकारी हिंदी साहित्य के प्रमुख लेखकों और सामाजिक क्रांतिकारियों की 162 पुस्तकों का सैट

40,500.00
1 भारतीय दलित आन्दोलन का इतिहास (1-4)/मोहनदास नैमिशराय सेट ₹ 1600. 2 सफाई देवता/ ओमप्रकाश वाल्मीकि ₹ 175. 3 महाराजा सूरजमल/ कुँवर नटवर सिंह ₹ 199. 4 इस्लाम में धार्मिक चिंतन की पुनर्रचना, मुहम्मद इकबाल; अनु. : मुहम्मद शीस खान ₹ 150 5 विवाह संस्कार स्वरूप एवं विकास / तापी धर्माराव ₹ 175 6 देवालयों पर मिथुन मूर्तियाँ क्यों?/ तापी धर्माराव ₹ 25 7 लोहे...
Loading...
0Shares